आज का संकल्प पाठ 

ओ३म् सादर नमस्ते जी 
आपका दिन शुभ हो 

दिनांक  – – १५ सितम्बर २०२०
दिन  – – मंगलवार
तिथि – – त्रयोदशी 
नक्षत्र – – आश्लेषा 
पक्ष – – कृष्ण 
माह  – – आश्विन 
ऋतु  – – शरद 
सूर्य  – – दक्षिणायण 
सृष्टि संवत्  – – १,९६,०८,५३,१२१
कलयुगाब्द  – – ५१२१
विक्रम संवत्  – – २०७७
शक संवत्  – – १९४२
दयानंदाब्द – – १९६

ओ३म्

भारत को आखिर बॉलीवुड ने दिया क्या है?
====================

   १. बलात्कार गैंग रेप करने के तरीके।

   २. विवाह किये बिना लड़का- लड़की का शारीरिक सम्बन्ध बनाना।

  ३.) विवाह के दौरान लड़की को मंडप से भगाना

  ४.) चोरी,डकैती करने की विधि।

   ५.) भारतीय संस्कारों का उपहास उड़ाना।

  ६.) लड़कियों को छोटे कपड़े पहनने की सीख देना….जिसे फैशन का नाम देना।

  ७.) दारू सिगरेट,चरस,गांजा कैसे पिया और लाया जाये।

  ८.) गुंडागर्दी कर के हफ्ता वसूली करना।

  ९.) भगवान का मजाक बनाना और अपमानित करना।

  १०.) पूजा- पाठ ,यज्ञ करना पाखण्ड है !

  ११.) भारतीयों को अंग्रेज बनाना।

  १२.) भारतीय संस्कृति को मूर्खता पूर्ण बताना और पश्चिमी संस्कृति को श्रेष्ठ बताना।

  १३.) माँ बाप को वृध्दाश्रम छोड़ के आना।

  १४.) गाय पालन को मज़ाक बनाना और कुत्तों को उनसे श्रेष्ठ बताना और पालना सिखाना।

  १५.) रोटी हरी सब्ज़ी खाना गलत बल्कि रेस्टोरेंट में पिज़्ज़ा बर्गर कोल्ड ड्रिंक और नॉन वेज खाना श्रेष्ठ है।

  १६.) पंडितों को जोकर के रूप में दिखाना, चोटीरखना या यज्ञोपवीत पहनना मूर्खता है मगर बालों के अजीबो- गरीब स्टाइल (गजनी) रखना व क्रॉस पहनना श्रेष्ठ है उससे आप सभ्य लगते हैं।

  (१७.) शुद्ध हिन्दी या संस्कृत बोलना हास्य वाली बात है और उर्दू या अंग्रेजी बोलना सभ्य पढ़ा-लिखा और अमीरी वाली बात…

  (१८.) पुरानी फिल्म्स मे कितने मधुर भजन हुआ करते थे, अब उसकी जगह अल्ला/मौला/इलाही जैसे गानो ने ली है, और हम हिंदू समाज भी हिXडो के जैसे उन गानो को लाखो की लाईक्स पकडा देते है, गुनगुनाते है; इससे ज्यादा और क्या विडंबना हो सकती है???

  १९) सिरियल का नाम है पवित्र रिश्ता और भाभी के कमरे से देवर,चाची के कमरे से ताऊ ,साली के कमरे से जीजा निकलता है 
हमारे देश की युवा पीढ़ी बॉलीवुड को और उसके अभिनेता और अभिनेत्रियों का अपना आदर्श मानती है…..अगर यही बॉलीवुड देश की संस्कृति सभ्यता दिखाए ..तो सत्य मानिये हमारी युवा पीढ़ी अपने रास्ते से कभी नहीं भटकेगी…आजकल नशा दिखावा सब न फिल्मों के गलत असर के कारण हो रहा है,

  ये पोस्ट उन हिन्दू छोकरों के लिए है जो फिल्म देखने के बाद गले में क्रॉस मुल्ले जैसी छोटी सी दाड़ी रख कर खुद को मॉडर्न समझते हैं हिन्दू नौंजवानों की रगो में धीमा जहर भरा जा रहा है। 

  फिल्म__जेहाद

   सलीम – जावेद की जोड़ी की लिखी हुई फिल्मों को देखें, तो उसमें आपको अक्सर बहुत ही चालाकी से हिन्दू धर्म का मजाक तथा मुस्लिम / ईसाई / साईं बाबा को महान दिखाया जाता मिलेगा. इनकी लगभग हर फिल्म में एक महान मुस्लिम चरित्र अवश्य होता है और हिन्दू मंदिर का मजाक तथा संत के रूप में पाखंडी ठग देखने को मिलते हैं। 

   फिल्म “शोले” में धर्मेन्द्र भगवान् शिव की आड़ लेकर हेमा मालिनी” को प्रेमजाल में फंसाना चाहता है, जो यह साबित करता है कि – मंदिर में लोग लडकियां छेड़ने जाते हैं. इसी फिल्म में ए. के. हंगल इतना पक्का नमाजी है कि – बेटे की लाश को छोड़कर, यह कहकर नमाज पढने चल देता है.कि- उसे और बेटे क्यों नहीं दिए कुर्बान होने के लिए ।

   “दीवार” का अमिताभ बच्चन नास्तिक है और वो भगवान् का प्रसाद तक नहीं खाना चाहता है, लेकिन ७८६ लिखे हुए बिल्ले को हमेशा अपनी जेब में रखता है और वो बिल्ला भी बार बार अमिताभ बच्चन की जान बचाता है ।

   “जंजीर” में भी अमिताभ नास्तिक है और जया भगवान से नाराज होकर गाना गाती है लेकिन शेरखान एक सच्चा इंसान है ।

   फिल्म ‘शान” में अमिताभ बच्चन और शशिकपूर साधू के वेश में जनता को ठगते हैं, लेकिन इसी फिल्म में “अब्दुल” जैसा सच्चा इंसान है जो सच्चाई के लिए जान दे देता है ।

    फिल्म”क्रान्ति” में माता का भजन करने वाला राजा (प्रदीप कुमार) गद्दार है और करीमखान (शत्रुघ्न सिन्हा) एक महान देशभक्त, जो देश के लिए अपनी जान दे देता है ।

  अमर-अकबर-अन्थोनी में तीनों बच्चों का बाप किशनलाल एक खूनी स्मगलर है, लेकिन उनके बच्चों अकबर और एन्थॉनी को पालने वाले मुस्लिम और ईसाई महान इंसान हैं. साईं बाबा का महिमामंडन भी इसी फिल्म के बाद शुरू हुआ था ।

   फिल्म “हाथ की सफाई” में चोरी – ठगी को महिमामंडित करने वाली प्रार्थना भी आपको याद ही होगी ।

  कुल मिलाकर आपको इनकी फिल्म में हिन्दू नास्तिक मिलेगा या धर्म का उपहास करता हुआ कोई कारनामा दिखेगा और इसके साथ साथ आपको शेरखान पठान, DSP डिसूजा, अब्दुल, पादरी, माइकल, डेबिड, आदि जैसे आदर्श चरित्र देखने को मिलेंगे। 

  हो सकता है आपने पहले कभी इस पर ध्यान न दिया हो लेकिन अबकी बार ज़रा ध्यान से देखना। केवल सलीम / जावेद की ही नहीं बल्कि कादर खान, कैफ़ी आजमी, महेश भट्ट, आदि की फिल्मो का भी यही हाल है। 

  फिल्म इंडस्ट्री पर दाउद जैसों का नियंत्रण रहा है. इसमें अक्सर अपराधियों का महिमामंडन किया जाता है और पंडित को धूर्त, ठाकुर को जालिम, बनिए को सूदखोर, सरदार को मूर्ख कामेडियन, आदि ही दिखाया जाता है.

  “फरहान अख्तर” की फिल्म “भाग मिल्खा भाग” में “हवन करेंगे” का आखिर क्या मतलब था? 

  pk में भगवान् का रोंग नंबर बताने वाले आमिर खान क्या कभी अल्ला के रोंग नंबर 786 पर भी कोई फिल्म बनायेंगे ?           क्या हम सब इन हरामजादो का बहिष्कार नही कर सकते,

  मेरा मानना है कि – यह सब महज इत्तेफाक नहीं है बल्कि सोची समझी साजिश के तहत है ,एक चाल है।

     आज का वेद मंत्र 

 अपाम सोमममृताभूमागन्म ज्योतिरविदाम देवान्। किं नूनमस्मान् कृणवनराति: किमु धूर्तिरमृत मर्त्यस्य।। ( ऋग्वेद )

   💐अर्थ:-   हे अमृत रूप ईशवर , हे जरा  मृत्यु रहित  देव ! हमने तेरे सोम का भक्ति रस का पान किया है। अत: हम अमर हो गये है। हमने तेरी ज्योति को प्राप्त कर लिया है।भला शत्रु हमारा क्या बिगाड़ सकता है और दुष्ट मनुष्य की धुर्तता भी हमारा क्या बिगाड़ सकती है ।

 आज का संकल्प पाठ 
   
(सृष्टि संवत् – संवत्सर-अयन – ऋतु- मास-तिथि- नक्षत्र)

           ओं तत्सद्।श्री व्रह्मणो दिवसे द्वितीये प्रहरार्धे सप्तमे वैवस्वते मन्वन्तरे अष्टाविंशतितमे कलियुगे कलिप्रथमचरणे ,{ एकोवृन्दः षण्णवतिकोटि: अष्टलक्षानि त्रिपञ्चाशत्सहस्राणि एकविंशत्युत्तरशततमे ( १,९६,०८,५३,१२१) सृष्टिसंवत्सरे } { पच्चसहस्स्राणि एकविंशत्युत्तरशततमे ( ५१२१ ) कलियुगे } { सप्तसप्तत्युत्तर द्विसहस्रतमे ( २०७७) विक्रमसंवत्सरे } {षण्णवत्यधिकशततमे (१९६) दयानंद संवत्सरे }  रवि दक्षिणायाने, शरद ऋतौ, आश्विन मासे, कृष्ण पक्षे, त्रयोदशी तिथि, आश्लेषा नक्षत्रे, मंगलवासरे, तदनुसार १५ सितम्बर २०२०
जम्बूद्वीपे,  भरतखण्डे आर्यावर्त्तान्तरगते ………प्रदेशे ,……..जनपदे.. ..नगरे……गोत्रोत्पन्नः….श्रीमान. (पितामह)….(पिता)…पुत्रस्य… अहम् .'(स्वयं का नाम)….अद्य  प्रातः कालीन वेलायाम्  सुख शांति समृद्धि हितार्थ ,आत्मकल्याणार्थ ,रोग -शोक निवारणार्थ च यज्ञ कर्मकरणाय भवन्तम् वृणे।
smelan, marriage buero for all hindu cast, love marigge , intercast marriage , arranged mar

arayasamaj sanchar nagar 9977987777